कालका मंदिर की यात्रा (Kalka Mandir ki yatra)

कालका मंदिर दिल्ली का एक विख्यात मंदिर है। यंहा हम बहाई समुदाय के कमल मंदिर को देखने के बाद पहुंचे। कालका माता मंदिर, कमल मंदिर से लगभग पांच सौ मीटर की दूरी पर है। यह मंदिर काफी प्राचीन बताया जाता है। इस मंदिर को देवी महाकाली का निवास स्थान माना जाता है। यंहा नवरात्रि को ज्यादा भीड़ होती हैं।

हम शाम के समय कालका मंदिर (Kalka Temple) पहुंचे थे। अन्य मंदिरों की तरह यंहा भी प्रसाद की दुकानें बहुतायत में थी। हमने एक दुकान से प्रसाद लिया और कुछ फूलमाला भी खरीदा। इसके बाद हम मंदिर की तरफ बढ़े जंहा सामान्य दिनों में भी काफी भीड़ थी। हमें कालका माता के दर्शन करने में लगभग एक घंटे से ऊपर का समय लग गया।

ज्यादा भीड़ होने की वजह से हम मंदिर परिसर में ज्यादा समय नही रुक सके पर मंदिर की भीड़ यंहा की प्राचीनता और प्रसिद्धि की गवाही दे रहा था।

यंहा पास में ही मेट्रो स्टेशन है जोकि इसके नाम पर ही कालका मेट्रो स्टेशन है। जंहा से आप अपने गंतव्य के लिए जा सकते है। यह मंदिर हालांकि अब नवीन शैली में बना है जिसका कारण मुग़लों द्वारा इसका कई बार किया गया ध्वस्तीकरण है।

इस बार की पोस्ट में बस इतना ही अब अगली यात्रा होगी लाल किले की

कालका मंदिर कब जाए when to go Kalka Temple) –

वैसे तो आप यंहा कभी भी जा सकते है पर हर माता के मंदिर की तरह यंहा नवरात्रि के समय दर्शन का विशेष महत्व है परंतु उस समय होने वाली भीड़ से भी आप सावधान रहें। अगर आपको भीड़ से कोई दिक्कत नही तो आप जा सकते है।

कालका मंदिर कैसे पहुंचे (how to reach Kalka Temple) –

यंहा पहुंचने के लिए पास के मेट्रो स्टेशन नेहरू प्लेस और कालका है। दोनों की ही मंदिर से दूरी तीन सौ मीटर के लगभग है। इसके साथ ही आप यंहा बस से भी पहुंच सकते है।

Kalka mandir,
कालका मंदिर चित्र सौजन्य से – www.mapsofindia.com

One thought on “कालका मंदिर की यात्रा (Kalka Mandir ki yatra)

Leave a Reply

%d bloggers like this: